मध्य प्रदेश में हर जिले में होगा ‘सायबर नोडल थाना’

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि । सायबर अपराधों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए मध्‍य प्रदेश के सभी जिलों में कोतवाली थाने को सायबर नोडल थाना बनाया गया है। यहां जिले में कहीं भी सायबर अपराध होने पर प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई करने का प्रविधान है। सायबर अपराधों में शिकायतों पर ध्यान नहीं दिए जाने की लोगों की शिकायत के बाद यह व्यवस्था की गई है।

यहां पर यह मालूम हो कि सायबर अपराध से संबंधित प्रकरण दर्ज करने में जिला स्तर पर कुछ भी स्पष्ट नहीं होता था कि कहां प्रकरण दर्ज होगा! कहा जाता था कि विशेषज्ञ और संसाधन नहीं होने पर वे इस दिशा में अधिक काम करने में दक्ष नहीं हैं। इसी के निराकरण के लिए हर जिले में नोडल थाना बनाया गया है। प्रशिक्षण के बाद यहां पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को नियुक्त किया गया है। जिले में कहीं भी सायबर से संबंधित अपराधों की सूचना भी कोतवाली थाने भेजे जाने का नियम है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, कोतवाली थानों में पदस्थ कर्मचारियों को लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कोरोना काल में भी इसके लिए ऑनलाइन व्यवस्था की गई। जल्द ही 13 जोन में सायबर फारेंसिक लैब की सुविधा दी जाएगी। इससे सायबर अपराधों के मामले सुलझाने में और अधिक मदद मिलेगी।

सायबर अपराधी पुलिस से बचने के लिए नए-नए माध्यम अपनाते रहते हैं। देश में कहीं पर भी अनूठे सायबर ठगों की जानकारी नोडल थानों में पदस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों को दी जाती है। इसका उद्देश्य यह है कि संबंधित क्षेत्र के लोगों को जागरूक कर जालसाजों से बचाया जा सके।

- Advertisement -

Latest news

एक सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत, मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजे

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि बुरहानपुर। इंदौर-इच्छापुर हाइवे के खातला फाटे के पास बुधवार दोपहर एक सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत हो गई।...
- Advertisement -

ज़रूर पढ़े

इंदौर: नाबालिग को हुआ पंजाब के लड़के से प्रेम, पबजी खेल से हुई थी दोनों की जान- पहचान, पहुँच गयी पंजाब उससे मिलने

परिजनों की गुमशुदगी की शिकायत पर; पुलिस ने कॉल डिटेल निकाली तो दस दिन बाद आरोपी और लड़की को इंदौर ले आई।...

सिंधिया: किसने क्या किया- क्या नहीं किया, कांग्रेस को खुद नहीं पता अपने नेताओं के बारे में

कांग्रेस खुद ही नहीं जानती कि उनके नेता ने क्या किया और क्या नहीं. कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य...

Related news

आइए जानते हैं HelloKidney एप क्या है

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि | किडनी शरीर का एक अभिन्न और जरूरी अंग है। केवल किडनी में दिक्कत होने से शरीर के कई...

अपने जीमेल को लेकर है परेशान, गूगल अपने नए फीचर में यूजर्स की इसी परेशानी को ठीक करेगा

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि। अगर आप अपने जीमेल को लेकर परेशान है तो आपके लिए ये खबर काम की हो सकती है। दरअसल गूगल...

तीसरी मंजिल से गर्भगृह तक कैसे पहुंची सूरज की रोशनी? जानें रामलला के सूर्य तिलक के पीछे की साइंस

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि। आज, बुधवार (17 अप्रैल) को देशभर में धूमधाम से रामनवमी का पर्व मनाया जा रहा है। इस बार की...

पहले से ही IPS अफसर हैं UPSC की टॉप-5 रैंक में आने वाले ये तीनों टॉपर

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने मंगलवार को सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशन- 2023 का रिजल्ट जारी कर दिया। 1016 कैंडिडेट्स...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here