बायजू ने कर्मचारियों को घर से काम करने को कहा, भारत में अधिकांश ऑफिस खाली

- Advertisement -
- Advertisement -

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि I नकदी संकट से जूझ रही एडटेक कंपनी बायजूस (Byju’s) ने अपने सभी ऑफिसों को बंद करने का फैसला किया। साथ ही काम करने वाले सभी एम्प्लॉइज को घर से काम करने यानी वर्क फ्रॉम होम करने को कहा है।

हालांकि, इस फैसले में बायजूस के 300 ट्यूशन सेंटरों में काम करने वाले लोग शामिल नहीं होंगे। कंपनी अब केवल बेंगलुरु के IBC नॉलेज पार्क में स्थित हेडक्वार्टर को चालू रखेगी। यह बदलाव कंपनी के CEO अर्जुन मोहन के रिस्ट्रक्चरिंग प्लान का हिस्सा है।

CapTable ने सोर्सेस के हवाले से इस बात की जानकारी दी है। यह फैसला ऐसे समय में आया है, जब कंपनी ने अपने 75% कर्मचारियों को फरवरी की पूरा सैलरी तक नहीं दी है। कंपनी के पास भारत में करीब 14,000 कर्मचारी हैं।

10 मार्च को सैलरी देने में असफल रही कंपनी
इससे पहले, पिछले हफ्ते 2 मार्च को कंपनी के फाउंडर बायजू रवींद्रन ने कर्मचारियों को 10 मार्च तक सैलरी देने का आश्वासन दिया था। लेकिन कंपनी इस दिन कर्मचारियों को वेतन का कुछ हिस्सा ही दे सकी।

राइट्स इश्यू का फंड इस्तेमाल नहीं कर पा रही कंपनी
2 मार्च को रवींद्रन ने कहा था कि राइट्स इश्यू के जरिए कंपनी ने फंड रेज किया है। लेकिन उसका सैलरी देने में इस्तेमाल नहीं कर सकते, क्योंकि इन्वेस्टर्स के विरोध के चलते इसे अलग अकाउंट में लॉक कर दिया गया है।

विवाद के चलते बढ़ा नकदी का संकट
बायजूस के निवेशकों प्रोसस एनवी, पीक एक्सवी पार्टनर्स, जनरल अटलांटिक और सोफिना एसए ने 225 मिलियन डॉलर (करीब 1,862 करोड़ रुपए) के पोस्ट-मनी वैल्यूएशन पर 200 मिलियन डॉलर यानी करीब 1,655 करोड़ रुपए जुटाने के कंपनी के फैसले का विरोध किया। यह फंड रेजिंग पिछले राउंड से 99% कम है। पिछला फंडिंग राउंड 22 बिलियन डॉलर यानी करीब 1.82 लाख करोड़ रुपए के वैल्यूएशन पर हुआ था।

बायजू के निवेशकों ने कंपनी पर अमेरिका में 533 मिलियन डॉलर (करीब 4,411 करोड़ रुपए) की हेराफेरी का आरोप लगाते हुए 1,655 करोड़ रुपए के राइट्स इश्यू पर रोक लगाने की मांग की है। इसे अवैध और कानून के विपरीत बताया है।

रवींद्रन ने सैलरी देने के लिए गिरवी रखा घर
इससे पहले बायजूस के फाउंडर बायजू रवींद्रन एम्प्लॉइज को सैलरी देने के लिए अपने घर के साथ-साथ अपने फैमिली मेंबर्स का घर भी गिरवी रख चुके हैं। बेंगलुरु के दो घरों को गिरवी रखकर उन्होंने करीब 100 करोड़ रुपए जुटाए और करीब 15,000 एम्प्लॉइज को सैलरी दी थी।

- Advertisement -

Latest news

एक सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत, मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजे

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि बुरहानपुर। इंदौर-इच्छापुर हाइवे के खातला फाटे के पास बुधवार दोपहर एक सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत हो गई।...
- Advertisement -

ज़रूर पढ़े

इंदौर: नाबालिग को हुआ पंजाब के लड़के से प्रेम, पबजी खेल से हुई थी दोनों की जान- पहचान, पहुँच गयी पंजाब उससे मिलने

परिजनों की गुमशुदगी की शिकायत पर; पुलिस ने कॉल डिटेल निकाली तो दस दिन बाद आरोपी और लड़की को इंदौर ले आई।...

सिंधिया: किसने क्या किया- क्या नहीं किया, कांग्रेस को खुद नहीं पता अपने नेताओं के बारे में

कांग्रेस खुद ही नहीं जानती कि उनके नेता ने क्या किया और क्या नहीं. कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य...

Related news

UAE में कई जगह हुई मूसलाधार बारिश, दुबई में आई बाढ़

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि। संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में मंगलवार को हुई तेज बारिश से कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए...

टेस्ला की कारों में लगेंगे टाटा के चिप! संकेत तो ऐसे ही मिल रहे हैं, जान लीजिए पूरी बात

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि। अब टेस्ला की सभी कारों के लिए सेमीकंडक्टर चिप टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स बनाएगी। अमेरिकी इलेक्ट्रिक व्हीकल मैन्युफैक्चरर टेस्ला ने इसके...

फ्लायओवर के नीचे भीषण सड़क हादसा, बेहद तेज गति से दौड़ रही कार अचानक अनियंत्रित होकर ब्रिज के नीचे जा घुसी

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि देवास। इंदौर रोड स्थित फ्लायओवर के नीचे रविवार शाम भीषण सड़क हादसा हुआ। बेहद तेज गति से दौड़ रही कार...

चीन में दुकानदारों की दबंगई, सामान नहीं खरीदा तो 37 पर्यटकों को बनाया बंधक

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि/चीन में एक गद्दे की दुकान पर 37 टूरिस्ट को बंधक बना लिया गया। उन्होंने दुकान से कुछ नहीं खरीदा...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here