रूस के दागिस्तान में आतंकी हमला, पादरी और पुलिसकर्मियों सहित 15 से ज्यादा की मौत

- Advertisement -
- Advertisement -

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि I रूस के दागिस्तान में रविवार (23 जून) को आतंकियों ने दो चर्च, एक सिनेगॉग (यहूदी मंदिर) और एक पुलिस पोस्ट पर हमला कर दिया। इसमें एक पादरी, 8 पुलिसकर्मियों सहित कुल 15 की मौत हो गई। पुलिस के 25 जवान भी घायल हैं। वहीं, 4 आतंकी भी मारे गए हैं।

CNN के मुताबिक आतंकियों ने पादरी का गला काट दिया था। पादरी 66 साल के थे। जिस यहूदी मंदिर और चर्च पर हमला हुआ वे दागिस्तान के डर्बेंट शहर में स्थित हैं, जो मुस्लिम बहुल इलाके उत्तरी काकेशस में यहूदी समुदाय का गढ़ है। जबकि जिस पुलिस स्टेशन पर हमला हुआ वो डर्बेंट से 125 किमी दूर दागिस्तान की राजधानी माखचकाला में है।

रूस की नेशनल एंटी-टेररिज्म कमेटी ने भी एक बयान में हमले की पुष्टि की है। दागिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने कहा कि हथियारबंद लोगों के एक समूह ने एक सिनेगॉग और एक चर्च पर गोलीबारी की। इनमें चार आतंकियों को मार गिराया गया। कुछ भाग गए, जिनकी तलाश की जा रही है।

अलजजीरा न्यूज नेटवर्क के मुताबिक, डर्बेंट स्थित एक सिनेगॉग और चर्च में आतंकी हमले के कारण आग लग गई। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया। अटैक के बाद हमलावरों को एक कार में भागते देखा गया। आतंकियों ने दूसरे यहूदी मंदिर पर भी गोलियां चलाईं। उस समय वहां कोई नहीं था, जिसके चलते लोगों की जान बच गई।

रूसी न्यूज एजेंसी TASS ने बताया कि हमलावर एक अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन के सदस्य थे। फिलहाल, किसी आतंकी संगठन ने हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

दागिस्तान ने हमले के पीछे यूक्रेन और NATO देशों को जिम्मेदार ठहराया है। दागिस्तान के नेता अब्दुलखाकिम गडजियेव ने टेलीग्राम पर लिखा, ‘इसमें कोई शक नहीं है कि ये आतंकी हमले किसी न किसी तरह से यूक्रेन और NATO देशों की खुफिया सेवाओं से जुड़े हैं।

रूस में आतंकी हमले को लेकर यूक्रेन की तरफ से अभी कोई बयान नहीं आया है। पड़ोसी देश चेचन्या के राष्ट्रपति रमजान कादिरोव ने कहा कि जो कुछ हुआ वह उकसावे और बयानों के बीच कलह पैदा करने का प्रयास जैसा लगता है।

रूस में इस साल का दूसरा बड़ा आतंकी हमला
रूस के दागिस्तान में हुआ अटैक इस साल का दूसरा बड़ा आतंकी हमला है। इससे पहले मार्च में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें 143 लोगों की मौत हो गई थी। हमले की जिम्मेदारी ISIS-K ने ली थी। हालांकि, रूस ने इसमें यूक्रेन की मिलीभगत होने के आरोप लगाए थे। पुतिन 18 मार्च को 5वीं बार रूस के राष्ट्रपति बने थे। हमला उसी के 5 दिन बाद हुआ था।

- Advertisement -

Latest news

Kedarnath Dham जाने वाले पैदल मार्ग पर भूस्खलन ,मलबे में दबे 3 तीर्थयात्रियों की मौत

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि I उत्तराखंड से इस समय एक दुःखद खबर सामने आ रही है. रविवार सुबह बड़ा हादसा हो गया....
- Advertisement -

ज़रूर पढ़े

इंदौर: नाबालिग को हुआ पंजाब के लड़के से प्रेम, पबजी खेल से हुई थी दोनों की जान- पहचान, पहुँच गयी पंजाब उससे मिलने

परिजनों की गुमशुदगी की शिकायत पर; पुलिस ने कॉल डिटेल निकाली तो दस दिन बाद आरोपी और लड़की को इंदौर ले आई।...

सिंधिया: किसने क्या किया- क्या नहीं किया, कांग्रेस को खुद नहीं पता अपने नेताओं के बारे में

कांग्रेस खुद ही नहीं जानती कि उनके नेता ने क्या किया और क्या नहीं. कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य...

Related news

माध्यमिक शिक्षक संघ(यूपी) ने मानसिक रूप से स्वतंत्र होकर कार्य करने की मांग की

ऑनलाइन हाजिरी के विरोध में किया प्रदर्शन राष्ट्र आजकल/प्रदीप बच्चन/ बलिया यूपी बलिया (यूपी) के उप्र...

पूर्व विकास शिक्षा अधिकारी आर एस भगत का निधन

राष्ट्र आजकल / हीरा सिंह उईके / मंडला। जिले के विकास खंड मोहगाँव अंतर्गत ग्राम पंचायत चाबी के पोषक ग्राम झंडा टोला...

रिलायंस रिटेल का मुनाफा पहली तिमाही में 4.6 फीसदी बढ़कर 2,549 करोड़ रुपये पर

राष्ट्र आजकल प्रतिनिधि I रिलायंस इंडस्ट्रीज को वित्त वर्ष 2024-25 की पहली तिमाही में 15,138 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है।...

नाबालिग बेटी की तलाश में दर दर की ठोकरें खाता हुआ पिता

राष्ट्र आजकल / बब्लू शर्मा / लटेरी विदिशा आखिरकार,कब मिलेगा इस असहाय पिता को इन्साफ़
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here